दिन की कहानी

Archivers

दिन की कहानी 19, जनवरी 2016

सफलता का आधार- एक ही लक्ष्य का निर्धारण । एक ने एक अमीर एक आदमी का ठाठ-बाट देखा और उससे प्रेरित हो उसने सोचा कि मुझे भी इस व्यक्ति कि तरह धनवान बनना चाहिए । फिर ये सोच कर, वह कई दिन तक उसी अमीर आदमी की तरह कमाई करने का प्रयास किया, और कुछ पैसे भी कमा लिए ।…

Read More
दिन की कहानी 18, जनवरी 2016

जब भी अपनी शख्शियत पर अहंकार हो, एक फेरा शमशान का जरुर लगा लेना । और…. जब भी अपने परमात्मा से प्यार हो, किसी भूखे को अपने हाथों से खिला देना । जब भी अपनी ताक़त पर गुरुर हो, एक फेरा वृद्धा आश्रम का लगा लेना । और… जब भी आपका सिर श्रद्धा से झुका हो, अपने माँ-बाप के पैर…

Read More
दिन की कहानी 18, जनवरी 2016

छोटी-छोटी कहानियाँ (1) एक बार गाँव वालों ने यह निर्णय लिया कि बारिश के लिए ईश्वर से प्रार्थना करेंगे, प्रार्थना के दिन सभी गाँव वाले एक जगह एकत्रित हुए, परन्तु एक बालक अपने साथ छाता भी लेकर आया । इसे कहते हैं, आस्था । (2) जब आप एक बच्चे को हवा में उछालते हैं तो वह हँसता है, क्योंकी वह…

Read More
दिन की कहानी 18, जनवरी 2016

हे भव्य जीवो ! आज आपको एक कहानी सुनाता हु जिसने णमोकार मंत्र का अपमान किया उसको क्या फल मिला जी हां , एक समय की बात है सुभौम चक्रवर्ती नाम का एक राजा राज्य करता था । वह अपने राज्य को बहुत अच्छी प्रकार से चलाता था । उसे आम बहुत पसन्द थे । एक बार एक देवता मनुष्य…

Read More
दिन की कहानी 13, जनवरी 2016

जिस दिन हमारी मोत होती है, हमारा पैसा बैंक में ही रहा जाता है। जब हम जिंदा होते हैं तो हमें लगता है कि हमारे पास खर्च करने को पया॔प्त धन नहीं है । जब हम चले जाते है तब भी बहुत सा धन बिना खच॔ हुये बच जाता है । – एक चीनी बादशाह की मोत हुई । वो…

Read More
दिन की कहानी 12, जनवरी 2016

मंदिर के बाहर लिखा हुआ एक खुबसुरत सच l अगर उपवास करके भगवान खुश होते, तो इस दुनिया में बहुत दिनो तक खाली पेट रहनेवाला भिखारी सबसे सुखी इन्सान होता, उपवास अन का नही विचारों का करे l इंसान खुद की नजर में सही होना चाहिए, दुनिया तो भगवान से भी दुखी है, चिड़िया जब जीवित रहती है, तब वो…

Read More
दिन की कहानी 12, जनवरी 2016

एक दिन एक राजा ने अपने 3 मन्त्रियो को दरबार में बुलाया, और तीनो को आदेश दिया कि एक-एक थैला लेकर बगीचे में जाएं और वहां से अच्छे-अच्छे फल (fruits ) जमा करें । वो तीनो अलग-अलग बाग़ में प्रविष्ट हो गए, पहले मन्त्री ने कोशिश की के राजा के लिए उसकी पसंद के अच्छे- अच्छे और मज़ेदार फल जमा…

Read More
दिन की कहानी 12, जनवरी 2016

जैन लोग पवॅतिथी में ग्रीन सबजी क्यों नही खाते ? जैन लोगो में 2, 5, 8, 11, 14, 15 और पूनम, ये तिथी में ग्रीन सबजी नही खाते । क्योंकी चंद्र हमारा ऐनटीना है । ये तिथी में पृथ्वी पर गुरुत्वाकषॅण में बडा बदलाव आता है । ये समय में पृथ्वी, चंद्र और मन की स्थिति में बदलाव आने से…

Read More

Archivers